देश

संयुक्त किसान मोर्चा ने संसद तक ट्रैक्टर मार्च को किया स्थगित

नई दिल्ली। 29 नवंबर को किसान संसद भवन तक ट्रैक्टर मार्च करने वाले थे। दिल्ली पुलिस ने भी इन किसानों को रोकने की पूरी तैयारी कर चुकी थी लेकिन इस बीच किसान मोर्चा की तरफ से एलान किया गया है कि अब 29 नवंबर को आयोजित होने वाले ट्रेक्टर मार्च को वापस ले लिया गया है। किसान संगठनों ने यह फैसला कृषि कानून की वापसी के फैसले के बाद लिया है। किसान यूनियन की बैठक में आज इस बात का फैसला लिया गया।

बता दें कि सिंघु और टिकरी बॉर्डर पर संयुक्त किसान मोर्चा के नेताओं ने बैठक की इस बैठक के बाद ये जानकारी दी गई है कि किसान प्रस्तावित संसद मार्च को फिलहाल स्थगित कर रहा है। संयुक्त किसान मोर्चा की ओर से बताया गया है कि आगे कि रणनीति के लिए चार दिसंबर को मीटिंग बुलाई गई है। इस बात की जानकारी संयुक्त मोर्चा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दी।

संयुक्त किसान मोर्चा ने आज एक प्रेस कांफ्रेंस करके बताया कि 29 का कार्यक्रम रद्द नहीं, स्थगित है। अगर प्रधानमंत्री को भेजी गयी चिट्ठी का जवाब नहीं आया तो आगे देखेंगे कि क्या करना है। इसलिए 4 को फिर बैठक होगी। संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा कि केंद्र सरकार हमसे वार्ता करे।

मोर्चा ने कहा कि सभी किसान संगठन MSP के मुद्दे पर एक हैं। आंदोलन की दशा और दिशा 4 को तय होगी। हमारा संघर्ष जारी है, हम सरकार को देख रहे हैं कि वो क्या करती है। MSP पर हमारी लड़ाई चलती रहेगी। मोर्चा ने कहा कि सरकार MSP कानून के बारे में ऐलान करे, तब 4 तारीख की बैठक में तय होगा कि क्या करना है।