इंटरटेनमेंट

क्लाइमेट वॉरियर वाली अपनी पहल के लिए भूमि ने नार्वे के डिप्लोमैट एरिक सोलहेम से हाथ मिलाया!

यंग बॉलीवुड स्टार भूमि पेडणेकर सामाजिक रूप से हमेशा एक जागरूक नागरिक रही हैं और उन्होंने पर्यावरण संरक्षण तथा क्लाइमेट चेंज के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए एक बहुप्रशंसित अखिल भारतीय एडवोकेसी अभियान ‘क्लाइमेट वॉरियर’ शुरू किया है। क्लाइमेट वॉरियर सोशल मीडिया की एक ठोस पहल है, जिसका नेतृत्व भूमि पूरे भारत के अथक पर्यावरण कार्यकर्ताओं और नागरिक समूहों द्वारा किए गए अद्भुत कार्यों को सामने लाने के लिए करती हैं। वह देश की तेजी से बदलती जलवायु परिस्थितियों को लेकर आवाज उठाने के लिए अपने अत्यधिक जुड़ाव वाले सोशल मीडिया का इस्तेमाल करती हैं। अब भूमि ने ग्रीन बेल्ट एंड रोड इंस्टीट्यूट के प्रेसिडेंट और यूएनईपी नॉर्वे के पूर्व एग्जीक्यूटिव प्रेसिडेंट एरिक सोलहेम के साथ एक जरूरी पहल के लिए हाथ मिलाया है, जिसके तहत हम इन दोनों को मुंबई के पश्चिमी उपनगर में स्थित कार्टर रोड पर एक समुद्री बीच की साफ-सफाई करते देखेंगे। देश भर में जलवायु संरक्षण की दिशा में बेहद सराहनीय कार्य कर रहे भामला फाउंडेशन ने इस पहल को मुमकिन बनाया है।

भूमि कहती हैं, “हमारे देश में ही नहीं, बल्कि शानदार काम करने वाले अद्भुत क्लाइमेट वॉरियर पूरे विश्व में मौजूद हैं। क्लाइमेट जस्टिस की पैरोकार बनने के अपने इस सफर में मुझे ऐसे कई अद्भुत लोग मिले हैं, जो क्लाइमेट चेंज को चर्चा का केंद्र बनाने में मदद कर रहे हैं। यह निहायत ही गंभीर मुद्दा है और हम एक ऐसे संकट में पड़ चुके हैं, जिसे लोग अभी महसूस नहीं कर पा रहे हैं।”

वह आगे बताती हैं, “मैं अपना पूरा ज़ोर लगाकर इस मुद्दे के बारे में ज्यादा से ज्यादा जागरूकता फैलाने का काम कर रही हूं। मुझे भामला फाउंडेशन और ग्रीन बेल्ट एंड रोड इंस्टीट्यूट के प्रेसीडेंट एरिक सोलहेम के साथ साझेदारी करने पर गर्व है। इस साझेदारी के तहत हम आज कार्टर रोड बीच को साफ करेंगे और इस बारे में बात करेंगे कि हम सभी व्यक्तिगत रूप से किस प्रकार एक बड़ा बदलाव ला सकते हैं और अपने इस प्यारे प्लेनेट को बचा सकते हैं, जिसने हमें बिलाशर्त पाला-पोसा है।”