breaking news

राजस्थान: लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, पूर्व मंत्री लालचंद कटारिया और राजेंद्र यादव समेत 32 नेता भाजपा में हुए शामिल





नई दिल्ली। आगामी लोकसभा चुनाव से पहले राजस्थान में पूर्व सीएम अशोक गहलोत के करीबी और पूर्व कैबिनेट मंत्री लालचंद कटारिया ने कांग्रेस छोड़ बीजेपी का दामन थाम लिया। यही नहीं उनके अलावा 32 अन्य नेता ने भी बीजेपी में शामिल हो गए। राजस्थान के मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सीपी जोशी और केन्द्रीय मंत्री भूपेन्द्र यादव की मौजूदगी में सभी कांग्रेसी नेता जयपुर स्थित बीजेपी प्रदेश कार्यालय में कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल हो गए।

कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल होने वाले नेताओं में लालचंद कटारिया के अलावा गहलोत सरकार में मंत्री रहे राजेन्द्र यादव, पूर्व विधायक रिछपाल मिर्धा, खिलाड़ीलाल बैरवा, आलोक बेनीवाल, विजयपाल मिर्धा, भीलवाड़ा के पूर्व जिलाध्यक्ष रामपाल शर्मा का नाम शामिल है। बता दें कि लालचंद कटारिया गहलोत के करीबी रहे हैं। जबकि खिलाड़ीलाल बैरवा सचिन पायलट के कट्टर समर्थक। वहीं रामपाल शर्मा पूर्व विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी के काफी करीबी माने जाते हैं।

कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल होने वाले लालचंद कटारिाय ने कहा कि उन्होंने अपनी अंतरात्मा की आवाज सुनी और बीजेपी में शामिल हो गए। उन्होंने कहा कि सीएम ने किसानों की मांगों को पूरा किया है। आगामी चुनावों में बीजेपी को आगे बढ़ाएंगे। कटारिया ने कहा कि पीएम मोदी ने भारत को दुनिया में पहचान दिलाई है। बता दें कि आज बीजेपी में शामिल होने वाले कांग्रेस नेताओं में 2 पूर्व मंत्री और चार पूर्व विधायक शामिल हैं।

कांग्रेस के इन नेताओं के अलावा पूर्व विधायक रामनारायण किसान, अशोक जांगिड़, गोपालराम कुकुणा, सेवानिवृत्त आईएएस औंकार सिंह चौधरी, प्रिया सिंह मेघवाल, राजेन्द्र परसवाल, अनिल व्यास, प्रदेश कांग्रेस सेवादल के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष सुरेश चौधरी, शैतान सिंह मेहरड़ा, रामनारायण झाझड़ा, पूर्व प्रधान जगन्नाथ बुरड़क, कर्मवीर चौधरी, कुलदीप ढेवा और बच्चू सिंह चौधरी का नाम भी शामिल हैं।

वहीं महेश शर्मा, रणजीत सिंह, रुघाराम महिया सुनीता चौधरी, प्यारेलाल शर्मा, मधुसूदन शर्मा, रामलाल मीणा, मदनलाल अटवाल, महेश शर्मा, रामखिलाड़ी शर्मा और भींयाराम पेड़ीवाल भी भी बीजेपी में शामिल हो गए।

Share With