breaking news

पीएम मोदी ने जारी की किसान सम्मान निधि की 17वीं किस्त, बोले- मां गंगा ने मुझे गोद लिया…





नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीसरे कार्यकाल की शपथ लेने के बाद अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के दौरे पर हैं। अपने दौरे के दौरान पीएम मोदी ने किसान सम्मेलन को संबोधित करने सहित कई कार्यक्रमों में हिस्सा लिया। यहां प्रधानमंत्री ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की 17वीं किस्त के तहत 9.60 करोड़ किसानों के खातों में 20,000 करोड़ रुपये से अधिक की राशि ट्रांसफर की।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि अपने किसान भाई-बहनों का जीवन आसान बनाने के लिए हमारी सरकार प्रतिबद्ध है। काशी की पवित्र भूमि से प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की 17वीं किस्त जारी करते हुए गर्व की अनुभूति हो रही है। पीएम मोदी ने कृषि सखी प्रोग्राम के तहत प्रशिक्षण पाने वाली कृषि सखियों को प्रमाणपत्र भी प्रदान किए।

पीएम मोदी ने कहा कि इस चुनाव में देश के लोगों ने जो जनादेश दिया है, वो वाकई अभूतपूर्व है। इस जनादेश ने एक नया इतिहास रचा है। ऐसा बहुत कम देखा गया है कि कोई चुनी हुई सरकार लगातार तीसरी बार वापसी करे। लेकिन इस बार भारत की जनता ने ये भी करके दिखाया है। ऐसा भारत में 60 साल पहले हुआ था। तबसे भारत में किसी सरकार ने ऐसे हैट्रिक नहीं लगाई। आपने ये सौभाग्य मुझे दिया।

उन्होंने कहा कि चुनाव जीतने के बाद आज मैं पहली बार बनारस आया हूं। मैं बनारस की जनता को नमस्कार करता हूं। काशीवासियों के असीम स्नेह से मुझे तीसरी बार देश का प्रधान सेवक बनने का सौभाग्य मिला है। काशी के लोगों के मुझे लगातार तीसरी बार अपना प्रतिनिधि चुनकर मुझे धन्य कर दिया है। अब तो मां गंगा ने भी जैसे मुझे गोद ले लिया है, मैं यहीं का हो गया हूं।

पीएम मोदी ने कहा कि मैं बनारस के हर मतदाता का भी लोकतंत्र के इस उत्सव को सफल बनाने के लिए आभार व्यक्त करता हूं। ये बनारस के लोगों के लिए गर्व की बात है। काशी के लोगों ने केवल एमपी नहीं बल्कि तीसरी बार पीएम भी चुना है। इसलिए आप लोगों को डबल बधाई।

पीएम मोदी ने कहा कि मैंने किसान, नौजवान, नारीशक्ति और गरीब को विकसित भारत का मजबूत स्तंभ माना है। अपने तीसरे कार्यकाल की शुरुआत मैंने इन्हीं के सशक्तिकरण से की है। सरकार बनते ही सबसे बड़ा किसान और गरीब परिवारों से जुड़ा फैसला लिया गया है। देश में गरीब परिवारों के लिए 3 करोड़ नए घर बनाने हों या फिर पीएम किसान सम्मान निधि को आगे बढ़ाना हो, ये फैसले करोड़ों-करोड़ों लोगों की मदद करेंगे।

इससे पहले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि हम सब ने बदलती हुई काशी को देखा है। एक काशी जो आज एक नए क्लेवर और नई काया के साथ दुनिया भर में अपनी नई आध्यात्मिक और सांस्कृतिक पहचान बना रही है। पिछले 10 वर्ष में इस नई काशी के कायाकल्प में न सिर्फ हजारों-करोड़ों रुपये लगे हैं बल्कि दुनिया ने इसे बदलते हुए देखा है।

Share With