breaking news

लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने बीएसएफ वाटिका में लगाया पौधा, बोले- इंदौर में हरियाली की पहल एक मिसाल बनेगी





इंदौर। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला मंगलवार को मध्य प्रदेश के एक दिवसीय प्रवास पर इंदौर पहुंचे और ‘एक पेड़ मां के नाम’ अभियान में शामिल हुए। इंदौर पहुंचने पर मंत्री कैलाश विजयवर्गीय, सांसद शंकर लालवानी, महापौर पुष्‍यमित्र भार्गव आदि ने उनका स्‍वागत किया। लोकसभा अध्यक्ष बिरला को यहां गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया।

बिरला बिजासन फारेस्ट कैम्प में आयोजित समारोह में शामिल हुए। उन्होंने बीएसएफ वाटिका में मंत्री कैलाश विजयवर्गीय के साथ पौधा लगाया। इस अवसर पर उन्होंने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि इंदौर अध्यात्मिक, सांस्कृतिक और सामाजिक आंदोलन की धरती है। जो हमेशा देश को प्रेरणा देता है। पीएम ने जलवायु परिवर्तन को चुनौती के रूप में देखा है। पर्यावरण के अनुकूल जीवनशैली को पूरा विश्व अपना रहा है। इसी से हम पर्यावरण की चुनौतियों से लड़ पाएंगे। एक पेड़ मां के नाम एक सामाजिक आंदोलन है।

इंदौर से शुरू हुआ यह अभियान देश के सभी गांव-शहर को प्रेरणा देगा। इंदौर में हरियाली की पहल एक मिसाल बनेगी। पर्यावरण के अनुरूप जीवन शैली होनी चाहिए। जी-20 देशों ने इसे जन आंदोलन बनाने की बात कही। बिरला ने कहा कि हम धरती को मां कहते हैं। पेड़ों की पूजा करते हैं। अब यह संस्कृति और संस्कारों को दूसरे देशों में ले जाना है। हमारी आने वाली पीढ़ी पर्यावरण के प्रति समर्पित होगी तो प्रकृति के प्रति दुनिया की चिंता कम होगी।

इस अवसर पर मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि हम जो पेड़ लगा रहे हैं, उस पर लोग शंका करते हैं कि बाद में उनका ध्यान कौन रखेगा, लेकिन हम पांच फीट लंबे पेड़ लगा रहे हैं, ताकि वे शत-प्रतिशत जीवित रहें। भाजपा के मध्य प्रदेश प्रभारी महेंद्र सिंह ने कहा कि जीवन वृक्ष के कारण है, ज्यादातर लोगों को ज्ञान की प्राप्ति वृक्ष के नीचे ही हुई है। इस अवसर पर पूर्व लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन भी मौजूद रहीं।

Share With